एनसीईआरटी कि नकली किताबों के गोरखधंधे के मामले पर अब राजनीति तेज हो गई है । कांग्रेस सड़कों पर उतर कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। बात करें अगर मेरठ की तो मेरठ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आज  जमकर प्रदर्शन किया ।तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते हैं कि किस तरह से धारा 144 लागू होने के बावजूद कांग्रेस कार्यकर्ता नारेबाजी कर रहे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस मामले पर बीजेपी कार्यालय का घेराव का एलान किया था ।जिसको लेकर आज उन्होंने अपने कार्यालय से पैदल मार्च करना शुरू किया ।लेकिन कार्यालय के बाहर ही पुलिस ने उनकी घेराबंदी कर ली। जहां पुलिसकर्मी उनकी तीखी नोकझोंक भी हुई ।कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। साथ ही आरोपी भाजपा नेताओं की जल्द गिरफ्तारी की भी मांग उठाई है। आपको बता दें कि मेरठ में एसटीएफ और पुलिस ने मिलकर एनसीईआरटी के नकली किताबों के गोरखधंधे मे लिप्त गैंग का पर्दाफाश किया था। मेरठ और गजरौला में छापेमारी के बाद करीब 70 करोड़ की नकली किताबें बरामद हुई थी। जिसके बाद बीजेपी के महानगर उपाध्यक्ष संजीव गुप्ता समेत आठ लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया। इस मामले में भाजपा ने संजीव गुप्ता से   किनारा करते हुए महानगर उपाध्यक्ष के पद से निलंबित कर दिया। वही अब समाजवादी और कांग्रेस को राजनीति करने के लिए एक मुद्दा मिल चुका है। जिसके बाद आप सड़क पर उतरकर प्रदर्शन का दौर चालू हो चुका है ।





Post a Comment

Previous Post Next Post