फारूख हुसैन
लखीमपुर खीरी

दरअसल ताजा मामला लखीमपुर खीरी जिले के कोतवाली पलिया क्षेत्र का है जहां पर बीते दिनों पहले हुई हत्या के मामले में कोतवाली पलिया पुलिस ने घर से पूछताछ की बात बताकर कोतवाली भीरा क्षेत्र के ग्राम दौलता पुर के मां शारदा मंडल भाजपा विधानसभा पलिया के सेक्टर मटेहिया के बूथ दौलतापुर के बूथ अध्यक्ष मटरूलाल के भाई रामसरन पुत्र चेतराम प्रधान मोहर सिंह  के पुत्र अभिषेक व विनोद कुमार पुत्र सोहनलाल को पलिया कोतवाली में लाकर दूसरे दिन ही हत्या के मामले में जेल भेज दिया ।लेकिन उधर जब इस बात की जानकारी परिजनों को हुई तो उनमें आक्रोश छा गया, जिसके बाद परिजनों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर पलिया कोतवाली पहुंचकर धरना कर जमकर प्रदर्शन किया ।

वहीं परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने जानबूझकर हमारे बच्चों को फसाया है हमारे बच्चों का इस हत्या से कोई भी मामला नहीं है पलिया पुलिस हमारे बच्चों को कोतवाली किसी मामले में पूछताछ की बात बताकर लेकर आई थी लेकिन उनको बिना बताए ही हत्या के मामले में हमारे बच्चों को जेल भेज दिया वहीं परिजनों ने यह भी बताया कि उनका भीरा थाना क्षेत्र निवासी दौलतपुर हीरा पुत्र रामदास मछुआरे द्वारा नदी के पानी के विवाद को लेकर उक्त व्यक्तियों द्वारा पलिया पुलिस से सांठगांठ करके कई महीने पुराने नदी में डूबने के मामले में हत्या के अंतर्गत 302 के फर्जी मुकदमे में फसाया गया है । मुझे परिजनों ने इस बात की पूरी जानकारी आला अधिकारियों को देखकर मामले की जांच करवाने की मांग की है ।
वही इस बात के विरोध में मौजूदा सरकार बी जे पी के कार्यकर्ता सहित मां शारदा मंडल भाजपा विधानसभा पलिया के मंडल अध्यक्ष शशि शंकर शुक्ला पलिया नगर मंडल अध्यक्ष उदयवीर सिंह और ग्रामीणों के साथ मिलकर परिजनों ने कोतवाली पलिया पहुंचकर धरना प्रदर्शन कर जमकर आक्रोश जाहिर किया जिसके बाद मौके पर पहुंचे सीओ निघासन और पलिया एसडीएम ने मामले की जानकारी ले ली वहीं मामले की जानकारी लेने के बाद  आश्वासन देने के बाद मामले को खत्म करवाया ।


Post a Comment

Previous Post Next Post