Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Breaking News

latest

मास्टरमाइंड ने कराई थी देहरादून के सर्राफ को गोली मारकर लूट

   देहरादून। पटेल नगर थाना क्षेत्र में 10 दिन पूर्व पूर्व सुनार के साथ लूट की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो बदमाशों को गिरफ्तार कर उनक...

  

देहरादून। पटेल नगर थाना क्षेत्र में 10 दिन पूर्व पूर्व सुनार के साथ लूट की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो बदमाशों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लूट के माल की बरामदगी की



22 सितंबर की देर शाम पटेल नगर थाना क्षेत्र में ब्लेसिंग फार्म हाउस के पास बाइक सवार बदमाशों ने एक सुनार को गोली मारकर उसके कब्जे से ज्वैलरी एवं नगदी से भरे बैग को लूट कर फरार हो गए थे इस घटना के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। लूट की इस घटना के खुलासे को लेकर पुलिस की कई टीम गठित की गई थी जिसके चलते पुलिस ने आसपास में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल कर बदमाशों के नजदीक पहुंचने का दावा किया। सुनार के साथ हुई इस लूट की घटना के बाद सुनार के भाई सफीकुल ने अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। बताया गया है कि पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए दून की सीमाओं को सील कर दिया था और हर तरफ चेकिंग अभियान चलाया गया था। जिसके चलते बदमाशों की धरपकड़ हुई। सुनार के साथ हुई इस लूट की घटना के बाद पटेल नगर थाना प्रभारी प्रदीप कुमार बिष्ट बिष्ट अपनी टीम के साथ मिलकर लूट की घटना के खुलासे में जुट गए थे। पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि पकड़े गए बदमाश इससे पूर्व भी अलग-अलग राज्यों में में लूट की घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं। पुलिस गिरफ्त में आए बदमाशों के नाम राहुल शर्मा उर्फ राहुल पण्डित पुत्र कैलाश चन्द्र शर्मा निवासी साठा बाजार बुलन्दशहर व नदीम पुत्र मतीन निवासी थाना व कस्बा सिकन्दराबाद बुलन्दशहर बताए गए हैं। वही इस लूट की घटना का मास्टरमाइंड फैजल चौधरी पुत्र अनीस निवासी खालापार योगेन्द्रपुरी (रामपुरम) थाना कोतवाली नगर मुजफ्फरनगर एवं एक अन्य बदमाश नईम पुत्र शराफत निवासी बाजोरिया रोड सहारनपुर पुलिस पकड़ से बाहर चल रहे हैं। जिनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस जब इस अभियान चला रही है। लूट की घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को डीआईजी ने पुरस्कृत करने की घोषणा की।

गाजियाबाद में भी की थी लूट पुलिस पर चलाई थी गोलियां

देहरादून के ब्लेसिंग फार्म हाउस के पास सुनार को गोली मारकर लूट की घटना को अंजाम देने वाले बदमाश राहुल शर्मा उर्फ राहुल पण्डित व साथी इकबाल उर्फ अतीक ने वर्ष 2017 में हापुड की एक ज्वैलरी शाॅप में लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। उस वक्त घटनास्थल पर लोगों ने इकट्ठा होकर एक बदमाश इकबाल को मौके पर पीट पीटकर मार डाला गया था। हापुड़ में की गई लूट की घटना में शामिल राहुल शर्मा ने पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से फायर किया गया था। जिसके बाद राहुल के विरुद्ध गाजियाबाद में भी मुकदमा दर्ज किया गया था यही नहीं गाजियाबाद के कई हिस्सों में लूट की घटनाओं को राहुल ने अंजाम दिया है।

देहरादून के पटेल नगर में सुनार को गोली मारकर लूट की घटना को अंजाम देने वाले उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर निवासी राहुल शर्मा उर्फ राहुल पण्डित व नदीम ने लूट की घटना के बाद दून में हुई पुलिस चेकिंग से बचने के लिए प्रेम नगर थाना क्षेत्र के नंदा की पुलिस चौकी के पास होकर जंगल में 22 सितंबर की रात्रि बिताई थी और सवेरे सेलाकुई क्षेत्र में पहुंच गए थे।बताया गया है कि लूट की घटना को अंजाम देने के बाद दोनों बदमाश जंगल में ही बाइक को छोड़कर फरार हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार बुलंदशहर निवासी दोनों बदमाशों की आपस में मुलाकात बुलंदशहर की जेल में हुई थी और उसके बाद दिल्ली में एक डकैती की घटना डकैती की घटना को अंजाम दिया था। उसमें भी दिल्ली पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा था बाद में दोनों बदमाश जमानत पर छूटकर बाहर आ गए थे।

दिल्ली से चोरी की गई थी बाइक

देहरादून के पटेल नगर थाना क्षेत्र में 22 सितंबर की रात्रि की गई लूट की घटना में इस्तेमाल की गई बाइकों को बदमाशों ने कुछ दिन पूर्व दिल्ली से चोरी किया था। बाइकों को चोरी करने के बाद उन्हें दून में लाया गया और यहां आकर लूट की घटना को अंजाम दिया गया। बताया गया है कि बदमाश लूट की घटना को एक दिन पहले अंजाम देने वाले थे लेकिन दिल्ली से आते वक्त बाइक खराब होने के चलते उन्होंने घटना को 22 सितंबर की रात्रि अंजाम। दून के पटेल नगर नगर पटेल नगर नगर थाना क्षेत्र में लूट की घटना को अंजाम देने के लिए योजना बनाने वाले यूपी के मुजफ्फरनगर निवासी फैजल चौधरी निकले अपराध की दुनिया में अपना दबदबा कायम रखने के लिए फैजल चौधरी ने देहरादून में लूट की घटना को अंजाम देने के लिए घटना से कई दिन पूर्व सुनार की रैकी करवाई थी। मुजफ्फरनगर के योगेंद्र पुरी निवासी फैजल चौधरी ने अपने साथी बदमाशों के साथ मिलकर साथ मिलकर दून में लूट की घटना को अंजाम दिया। मास्टरमाइंड फैजल चौधरी की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस की कई टीमें तब इस अभियान में जुटी हैं अभियान में जुटी हैं बताया जा रहा है जल्दी ही इस बदमाश की भी गिरफ्तारी हो जाएगी। लूट की इस घटना के खुलासे में डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने प्रेम नगर थानाध्यक्ष धर्मेंद्र रौतेला सहित थानाध्यक्ष धर्मेंद्र रौतेला सहित दिलबर सिंह नेगी पटेल नगर थाना प्रभारी प्रदीप बिष्ट एवं अन्य पुलिस अधिकारियों को लगाया था। घटना के 10 दिन बाद ही पुलिस ने खुलासा कर दिया।

No comments